कोटडा के झेर में कुरीतियों में बदलाव की पहली बैठक संपन्न- 7 को अगली बैठक होगी मामेर डेम पर

रिपोर्ट- विनोद कुमार
संदर्भ – उदय जी,प्रकाश डामोर,
4/2/2021 (kotdatimes )

गुजरात के तर्ज पर अब राजस्थान में भी आदिवासी क्षेत्र कोटडा के गांवों में आदिवासी समुदाय के कुरिवाज में बदलाव की पहल शुरू हो चुकी हैं।
बीती 2 फरवरी को गुजरात दांता के बारवास में एक सामुहिक लोकाई का आयोजन था। समाज के नियमों में किये गये बदलाव के आधार पर ही यह लोकाई हुई जंहा राजस्थान महाद क्षेत्र के झेर गांव से भी कुछ लोग इसमें शामिल हुए थे ।

साथ ही गुजरात के पोशीना,खेडब्रह्मा और दांता में जो लोकाई के नियम तय किये वो यहां लोग इसे अपनाये उसके लिए बनी कमेटी प्रयास कर रही है। इस प्रयास को देखकर अब राजस्थान में भी इसकी शुरुआत हो गई है। आज झेर में हुई मींटीग में झेर महाद और बेडाधर पंचायत के गाँव के पंच पटेल शामिल हुए। आज की बैठक पेसा एक्ट की ग्राम सभा की तरह आयोजित हुई जंहा लोगों ने अपने समाज में हो रहे फिजूल खर्च को रोकने हेतु लोकाई के नियम में बदलाव करना तय किया।

साथ ही तय किया कि यह अब हमें पुरे कोटडा के सभी गाँव में ले जाना होगा । आज हुई बैठक में पूर्व सरपंच बाबूलाल जी खोखरिया सायबराम पारगी, बाबू लाल भगोरा, मुखी लालू जी , अमृत जी, एडवोकेट हिम्मत तावड़ आदि उपस्थिति रहे। सामाजिक बदलाव को आगे बढाने हेतु आने वाली 7 फरवरी रविवार को मामेर डेम पर बडी मिटिंग का आयोजन किया जा रहा है। इसमें गुजरात पोशीना खेडब्रह्मा विस्तार के समाज सुधार कमेटी भी शामिल हो रही है।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4,512 views