पैदल अपने वतन जा रहें मजदूरों के लिए साबरकांठा पुलिस विभाग ने दिखाई अपनी दरियादिली

लेखक – अक्षय परमार (सोशल मीडिया एक्सपर्ट) अनुवाद  – अल्का बुंबडिया  26/3/2020 (कोटडा टाईम्स)   सरकार द्वारा गुजरात राज्य को हाल ही में लॉकडाऊन कर दिया गया है, गुजरात के लोग भी कोरोना वायरस को रोकने के लिए इस लॉक-डाउन का समर्थन कर रहे हैं। गुजरात के सभी शहरों,तहसील,और जिलों धारा-144 लागूं की गई हैं। कायदा का अनुपालन करने के लिए पुलिस के काफिले तैनात किया गया गया है और  वाहनों पर भी रोक लगा दी गई है जिसके कारण शहरी इलाकों में दैनिक जीवन मजदूरी करके घरों चलाने वाले  मजदूर वर्ग रोड़ पर उथल-पुथल हो गया है।अपने गाँव वापिस लौट रहे इन मजदूरों को कोई वाहनों ना मिलने पर यह पैदल चलकर जाना ही एक केवल रास्ता नज़र आ रहा है यह सोचकर वह लोग निकल पड़े हैं । गुजरात से राजस्थान तक पैदल चलने वाले मजदूरों जिनमें पुरुष,बच्चे और महिलाएं शामिल हैं। ऊन सभीको साबरकांठा के पुलिस विभाग के अधिकारी एसपी,श्री,चैतन्य मांडलिक और डीवायएसपी श्री.डी.एम चौहान साहब ने मजदूरों का मेडिकल चेकअप कराया,उन्हें चाय,पानी और नाश्ता देकर उन्हें अपने गाँव तक पहुँचने के लिए अच्छी परिवहन सुविधा प्रदान की। हम सभी को उन पुलिस अधिकारियों के साथ सहयोग करना चाहिए जो ड्यूटी पर हैं,वह हमारी सुरक्षा के लिए खूद की परवाह करें बिना लोगों की सेवा के लिए समर्पित हैं।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

533 views