शिक्षक दिवस पर विशेष कोटडा टाइम्स की और से अदिती की कविता

अनुशासन का पाठ पढ़ाना
डांटना और फिर समजाना,

पीछे बैठने वाले को सबसे पहले उठाना
छिपने वालो पे सबसे ज्यादा नजर रखना,

होम वर्क ना होने पर क्लास के बाहर करना
और आन्सर ना याद होने पे हाथ उपर करवाना,

ऐसी छोटी-छोटी पनीशमेंट देकर
हमें अपनी गलतियों का एहसास कराना,

शरारत करने पर कान पकडाना
आगे रहने पर पीठ ठ
थपथपाना,

बच्चों की तरह ध्यान रखना
अनगिनत सवालों के जवाब देना ,

एग्जाम से पहले एकस्ट्रा क्लास लेना
फ्युचर के लिए हमेशा अवेर करना,

पढने से पहले खुद पढकर आना
एन्टर होने से पहले बुक खुलवाना,

अपनी आवाज से ही खौफ पैदा करना
और फिर उस खौफ में परवाह दिखाना ..
शिक्षक दिन की हार्दिक शुभकामनाएँ
कवियित्री -अदिती मेवाडा

0Shares
381 views