मन गोम वाला खीजे ने आदिवासी भाषा की फिल्म के बाद बनवारी लाल बुंबरिया के विचार

आदिवासी जागरूक युवा संगठन , कोटड़ा के विनोद बुम्बरीया द्वारा निर्देशित भीली बोली में बनाई फ़िल्म *मन गोम वाला खीजे* (मुझे गाँव वाले डाँटते है)लघु फ़िल्म आदिवासी समाज मे व्याप्त लोकाई (मृत्युभोज)... Read more »

आदिवासी भाषा में बनी फिल्म मन गोम वाला खिजें ने पर कुछ सवाल और जवाब

आदिवासी भाषा में बनी फिल्म मन गोम वाला खिजें ने पर कुछ सवाल और जवाब सवाल -1. मूवी में जो समस्याएं बताई है वे कोटड़ा,पोशिना,खेद्ब्रह्मा,दांता के अलावा क्या आबूरोड,पाली,स्वरूपगंज आदि की भी है... Read more »

विश्व आदिवासी दिवस पर मुझे और मेरी बेटी दोनों को एक ही मंच पर मिला सम्मान

आज का दिन मेरे और मेरी बेटी के लिए यादगार रहा | आज,9 अगस्त 2019 को यूथ बोर्ड द्वारा प्रायोजित प्रशासनिक आदिवासी उप-योजना पालनपुर (बनासकांठा) द्वारा आयोजित अांतरराष्ट्रीय विश्व आदिवासी दिन समारोह... Read more »

આજનો દિવસ મારા અને મારી દિકરી માટે યાદગાર બની રહ્યો …-નિલેશભાઇ બુમ્બડીયા

આજે પ્રાયોજના વહિવટદાર ટ્રાયબલ સબ પ્લાન પાલનપુર (બનાસકાંઠા) દ્વારા 9મી ઓગષ્ટ 2019  આંતરરાષ્ટ્રીય આદિવાસી દિવસ ઉજવણી પ્રસંગે ગુજરાત યુવા બોર્ડ દ્વારા આયોજીત 51મા રાજ્ય યુવા ઉત્સવમા લોકગીત સ્પર્ધામાં  દ્વીતીય સ્થાને વિજેતા બની.... Read more »
512 views